तुलसी के फायदे व नुकसान - Basil Benefits and Side Effects in Hindi

तुलसी के फायदे व नुकसान -  Basil Benefits and Side Effects in Hindi

तुलसी के फायदे और नुकसान (Basil benefits and side effects in hindi, tulsi ke fayde aur nuksan in hindi): तुलसी पूजी जाती है क्योंकि यह लक्ष्मी माता का निवास है| हर एक घर मे एक तुलसी का पौधा तो ज़रूर पाया जाता है और यह सिर्फ़ पूजनिया ही नहीं बल्कि औषध के रूप में भी कई फायदे देती है| तुलसी के पत्ते, बीज, डंडी और मूल भी औषध के काम मे आते है| जानिए बेसिल हेल्थ बेनिफिट्स और कैसे तुलसी लीफ का उपयोग करे बेनिफिट्स ऑफ तुलसी पाने के लिए| 

बुखार में तुलसी के फायदे – Tulsi benefits for fever in Hindi

बुखार शरीर मे संक्रमण का लक्षण है और बुखार मिटाने के लिए तुलसी जूस अकेले या तो शहद, इलाइची, लौंग और काली मिर्च के साथ लिया जाए दिन मे तीन बार तो बुखार का शमन होता है| 
चाहे मलेरिया का बुखार हो या कॉलरा (cholera) या डिसेंट्री (dysentery)का, तुलसी लीफ को उबाले अदरक, नींबू, काली मिर्च के साथ और यह पानी शहद के साथ दिन मे 4 बार पीए तो जल्द ही बुखार का शमन होता है क्योंकि तुलसी मे कई ऐसे रसायन है जो कीटाणु नाशक और एंटी-फंगल है| 
बुड्ढ़ो से लेके छोटे बच्चो के लिए तुलसी बेनेफिट बुखार मे विशेष है, बस पत्तो को कूट के रस निकाले और बच्चे को 1 चम्मच दिन मे चार बार दे| 

मधुमेह में तुलसी का उपयोग – Tulsi Benefits for diabetics in hindi

  • मधुमेह के रोगी के लिए फायदे बेसिल लीव्स इन हिन्दी है की ब्लड शुगर को यह नियंत्रण मे रखता है, बस हर रोज सवेरे तुलसी का अर्क या तेल, तुलसी लीफ पाउडर या तुलसी जूस का सेवन करे तो दिन भर ताज़गी और स्फूर्ति रहती है| 
  • तुलसी बेनिफिट्स सिर्फ़ ब्लड शुगर को नियंत्रण के लिए ही नहीं है बल्कि इससे इंसुलिन का निर्माण भी सही होता है और उपयोग भी और साथ मे दिल को भी तुलसी हेल्थ बेनिफिट्स मे मजबूत बना देता है| 
  • क्योंकि तुलसी लीफ में विष निवारक तत्त्व है तो इससे शरीर स्वस्थ रहता है और साथ मे गुर्दे, जिन पर मधुमेह का असर होता है, वो भी तंदूरस्त रहते है सिर्फ़ नियमित तुलसी जूस के सेवन से| 

तनाव दूर करने का उपाय करे तुलसी से – Tulsi for stress releif in hindi

  • आजकल के तनाव युक्त जीवन मे ग्रंथियो मे से ऐसे हॉर्मोन निकलते है जो दिमागिया और शारीरिक हालत बिगाड़ देते है| इस तनाव के लिए तुलसी ग्रीन टी पीए और तुलसी ग्रीन टी बेनेफिट पाए की विष निकल जाएगा, ग्रंथियो की कार्यक्षमता बढ़ जाएगी और रात को नींद अच्छी तरह से ले पाएँगे| 
  • तुलसी में है यूगेनोल (eugenol)और कार्योपिलेने (caryophyllene)जो तुलसी ग्रीन टी बनाने पर पानी मे घुल जाते है और शरीर मे जाके तनाव को कम कर देते है| ग्रीन टी में है थेओब्रोमिने(theobromine)जो की तनाव का शमन करने में सहायक है| 
  • दिन की शुरुआत करे तुलसी जूस से और पाए तुलसी बेनेफिट जो है की पुरे दिन भले कितना भी तनाव हो, इसका शरीर और दिमाग़ पर असर नहीं होगा| रात को तुलसी लीफ ग्रीन टी पिए और अच्छी नींद पाए| 

तुलसी का रस से गुर्दे की पथरी का इलाज करे  – Tulsi for kidney stones in Hindi

  • तुलसी जूस या तुलसी लीफ को ग्रीन टी में मिला के पीए तो यह गुर्दे में यूरिक एसिड को होने से रोकती है जिससे पथरी नहीं बनती| 
  • बेनिफिट्स ऑफ तुलसी गुर्दे की पथरी में पाने के लिए तुलसी का रस शहद के साथ मिला के पीए और पथरी है तो इस को पिघलाने और बाहर निकालने के लिए तुलसी का रस और पथरचट्टा पत्ते के रस का सेवन करे 15 दीनो तक| 

तुलसी के पत्तों का सेवन करे कैंसर को दूर भगाए  – Tulsi leaves benefits for cancer in hindi

  • बेसिल हेल्थ बेनिफिट्स कई है और कैंसर से रक्षण देना इसमें से एक है, बस हर रोज एक चम्मच तुलसी जूस का सेवन करे तो इसमे रहे रसायन शरीर में से विष निकाल देंगे, कीटाणु का नाश करेंगे, शरीर की ग्रंथियो की कार्यक्षमता बढ़ा देंगे और कैंसर को दूर रखेंगे| 
  • सिर्फ़ 10 पत्ते तुलसी के ले और नियमित इसका रस पीए या तो ग्रीन टी के साथ उबाल के पीए और अलग प्रकार के कैंसर से रहे सुरक्षित, यह है कई तुलसी ग्रीन टी बेनिफिट्स में से एक| 
  • कैंसर से सुरक्षित रखते है तुलसी मे रहे तत्त्व यूगेनोल (eugenol) और पत्ते को पीसने पर यह तत्त्व तुलसी जूस मे से निकल आते है इसीलिए तुलसी का रस भी इतना ही फायदकारक है| 

तुलसी के औषधिए गुण स्मोकिंग बंद करने में सहायक – Benefit of tulsi to help you stop smoking in hindi

  • स्मोकिंग अगर आप बंद नहीं कर सकते है तो जानिए फायदे बेसिल लीव इन हिन्दी जिससे स्मोकिंग बंद हो सकती है – बस हर रोज तुलसी के पत्ते अपने पास रखे और चबाते रहे और अगर धूम्रपान करने की इच्छा हुई तो तुलसी के पत्ते चबाने के बाद धूम्रपान करे तो टेस्ट बिल्कुल अच्छा नहीं होगा और अपने अंदर जो तलब होती है उसका शमन होगा और धूम्रपान बंद हो जाएगा| 
  • कई लोग सुखी तुलसी लीफ को तंबाकू के बदले में उपयोग करते है और इसके धूम्रपान से भी धीरे धीरे तंबाकू का धूम्रपान करने की इच्छा ख़तम हो जाती है| 
  • धूम्रपान बंद करना है और तंबाकू के कैंसर करने वाले प्रभाव से बचना है तो हर रोज तुलसी जूस पीते रहे| इससे हानिकारक तंबाकू के रसायन फेफड़े में से बाहर निकल जाते है और मन में भी स्मोकिंग की इच्छा कम हो जाती है| 

तुलसी के फायदे चेहरे के लिए - Tulsi Benefits for skin in Hindi

  • त्वचा के लिए जानिए कैसे उपयोग करे बेसिल लीव्स इन हिन्दी – बस इसको पीस दे और अन्य सामग्री जैसे की एलो वेरा, शहद, नींबू के रस के साथ मिला के चेहरे पर लगाए तो काले दाग, झुर्रियां और बेजान त्वचा मे देखे कैसे निखार आ जाता है| 
  • तुलसी बेनेफिट फॉर फेस यह है की कील और मुहांसे हो जाए तो तुलसी और नींम के पत्ते का रस लगाए तो त्वचा बिल्कुल सॉफ हो जाती है| 
  • किसी कीड़े ने काट लिया हो तो तुलसी जूस लगाए तो जलन और दर्द कम हो जाता है| 
  • एक्जिमा (Eczema), दाद और खुजली में भी तुलसी एक रामबाण इलाज है त्वचा के लिए

बालो के लिए श्रेष्ट है तुलसी का उपयोग - Tulsi benefits for hair in Hindi

  • तुलसी बेनेफिट फॉर हेयर यह है की रूसी हो जाए तो इसको मिटा देता है, बस तुलसी का रस और आमले का रस मिला के बालो की जड़ो में मालिश करे| 
  • बालो का झड़ना, अकाल ही सफेद होना, कम बाल होना और बाल कमजोर या बेजान हो तो तुलसी जूस लगाए बालो में और पीते रहे तो एक महीने मे फरक दिखाई देगा| 

तुलसी का लाभ रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ाए - Tulsi leaves benefits for immunity in hindi

  • तुलसी मे यूगेनोल(eugenol) के अलावा कई ऐसे तत्त्व है जो शरीर मे से विष बाहर निकाल देते है, पाचन सुधार देते है, लहू को शुद्ध कर देते है, ग्रंथियो को मजबूत बना देते है जिसका परिणाम है की तुलसी से रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ जाती है| 
  • तुलसी बेनिफिट्स में एक बात है की बलगम शरीर से बाहर निकल जाती है और दोषो का शमन होता है जिससे रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ जाती है| 
  • तुलसी लीफ के रेग्युलर सेवन से खून मे एंटीबॉडी अच्छे प्रमाण में रहते है और रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ती है और साथ में लसिका ग्रंथि भी जोश में काम करती है| 

तुलसी के फायदे से दर्द का इलाज करे - Tulsi benefits for pain relief in Hindi

  • पेट मे दर्द हो बदहज़मी के कारण या गैस के कारण, या शरीर मे दर्द हो या सर में दर्द हो, सभी के लिए तुलसी जूस रामबाण इलाज है| 
  • चोट लग जाए तो तुलसी लीफ को पीस दे और हल्दी और सरसों का तेल मिला के लेप करे और पट्टी बाँध दे तो दर्द कम होगा| 
  • एसिडिटी से होने वाले पेट मे दर्द के लिए तुलसी जूस पिए या तुलसी ग्रीन टी बेनिफिट्स उठाए और दर्द से पाए छुटकारा क्योंकि तुलसी मे रहे रसायन सभी विकारो को ठीक कर देते है|

तुलसी के औषधिए गुण से दस्त का इलाज करे – Tulsi benefits for loose motion in Hindi

  • किसी भी कारण से दस्त हो जाए तो घर मे रहे पॉट मे तुलसी के पौधे पर से थोड़े तुलसी लीफ तोड़े, इन्हे पीस दे और यह रस दिन मे 3 बार पीते रहे| 
  • तुलसी का रस के साथ पान (खाने वाले पान) का रस मिला के सेवन करने से भी दस्त बंद हो जाते है| 
  • दस्त से छुटकारा पाने में तुलसी अर्क के फायदे या तुलसी जूस काफ़ी असरकारक है क्योंकि यह है एंटी-बॅक्टीरियल और एंटी-फंगल और दस्त खास कर के बैक्टीरिया या फंगस से होता है तो तुलसी बेनिफिट्स दस्त के लिए ज़रूर पाए| 

तुलसी के रस का फायदा अनियमित महावरी के लिए - Tulsi benefits for iregular periods in Hindi

  • बहुत सारी महिलाओ में महावरी के समय दर्द होता है और ऐसे मे तुलसी जूस या सुखी तुलसी लीफ के चूर्ण, अजवाइन, तामाल पात्रा, नींम की गोंद और सोंठ को पानी मे डाल के उबाले और यह कवाथ पीए तो आवश्य दर्द कम होता है| 
  • महावरी के समय या अंदरूनी खून का प्रसाव होता है तो तुलसी के मूल को कूट ले और पान के पत्ते के साथ सेवन करे और तुलसी लीफ का काढ़ा बना के पीते रहे तो गर्भाशय की तकलीफ़ ठीक हो जाती है| 
  • अनियमित मासिक धर्म मे सिर्फ़ तुलसी का रस या तो अशोक छाल और लोधरा के साथ मिला के काढ़ा बना के पीने से महावरी सही समय पर आने लगेगी और गर्भ धारण करना हो तो भी आसानी रहती है| 
  • महिलाओं के लिए तुलसी के बीज स्वास्थ्य लाभ अनेक हैं| महिलाओ को तुलसी के बीज का सेवन अवश्य करना चाहिए क्योंकि इन सभी तकलीफो में तुलसी बीज बहुत गुणकारी साबित होते है| 

आम सर्दी खांसी के लिए तुलसी के फायदे – Tulsi benefts for common colds and coughs in hindi

  • बच्चे से लेके बुड्ढ़ो तक, सभी को जब खाँसी, सर्दी और जुखाम हो जाए तो तुलसी जूस का सेवन याने तुलसी बेनेफिट कॉफ आंड कोल्ड मे अनगिनत है| तुलसी एंटी-वायरल है और जल्द ही लक्षणों का शमन हो जाता है| 
  • तुलसी लीफ मे ऐसे तत्त्व है जो की गले और फेफड़े के अंदर के भाग को राहत देते है और खाँसी को भी कम कर देते है और साथ में बलगम बाहर निकालने मे सहायक होते है| 
  • तुलसी का रस और आरडूसी का रस छोटे बच्चो को भी दे सकते है और ये बिल्कुल सुरक्षित और अक्सीर इलाज है सर्दी खाँसी में| 

सर का दर्द और पेट में दर्द का इलाज के लिए तुलसी - Benefits of tulsi for headache and stomach ache in Hindi 

  • सर में दर्द हो तो तुलसी लीफ और ग्रीन टी से बनाया काढ़ा पीए नींबू और शहद मिला के तो फ़ौरन राहत मिलेगी| तुलसी मे रहे फ्य्तोफेनोल्स (phytophenols) आप के शरीर की मासपेशिओं और दिमाग़ को बिल्कुल शांत और रिलैक्स कर देंगे| 
  • पेट मे दर्द होता है गैस के कारण और बैक्टीरिया के कारण तब तुलसी जूस शहद और अदरक रस के साथ पीए तो ऐसे कीटाणुओं और गैस का नाश होता है और चैन की साँस ले सकेंगे| 
  • छोटे बच्चो को भी पेट मे दर्द हो तो तुलसी का अर्क दे|

तुलसी का लाभ दाँत और मसूड़ो के लिए - Tulsi benefits for oral health in Hindi

  • तुलसी मे ऐसे तेज एसेंशियल (essential) आयल और रसायन है की दांतो के कीटाणुओं का नाश कर देता है और तुलसी बेनेफिट यह है की श्वास मे दुर्गंध का भी नाश होता है| 
  • तुलसी लीफ चबाये तो मुँह मे ताज़गी आती है, कीटाणुओं का नाश होता है और मसूड़े भी मजबूत बनते है क्योंकि तुलसी पायरिया (pyorrhea)का नाश करती है| 
  • तुलसी और नींम के पत्ते का उपयोग करे तो और फायदा होता है दांतो और मसूड़ों को| 
  • तुलसी के पौधे की डंडी से दन्त मंजन करे तो सांसो की बदबू, दांतो की सड़न और मसूड़ों की तकलीफ़ दूर हो जाएँगी यह है तुलसी हेल्थ बेनेफिट| 

तुलसी के रस का फायदा आँखो के लिए - Tulsi juice benefits for eyes in Hindi

  • कंजंक्टिवाइटिस (Conjunctivitis)बहुत तेज फैलने वाली आँखो की बीमारी है और अगर यह हो जाए तो चिंता ना करे, बस तुलसी जूस को पानी मे मिलाए और आँख धोते रहे तो दो दीनो मे आराम हो जाएगा|
  • आँखो मे सूजन या कोई संक्रमण हो तो तुलसी के पत्तो को पानी मे रहने दे दो घंटे और इस पानी से आंखे धोते रहे बेसिल हेल्थ बेनिफिट्स पाने के लिए| 
  • ऐसे भी हर रोज रात को पानी मे त्रिफला पाउडर और तुलसी लीफ भिगो के रखे और आँखो को धोने से आँखो की रोशनी हमेशा बरकरार रहती है| 

स्वाइन फ़्लू के लिए तुलसी के पत्ते के लाभ - Tulsi for swine flu in Hindi

  • तुलसी लीफ एक उत्तम एंटीवाइरल है और स्वाइन फ़्लू होता है वाइरस के फैलाव से तो ऐसे मे तुलसी जूस पीते रहे तो सुरक्षा बढ़ जाती है| 
  • जिन्हे स्वाइन फ़्लू हो जाए तो तुलसी जूस को पपीते के पत्ते के रस के साथ मिला के दिन में 4 बार एक एक चम्मच भर के पीने से बहुत जल्द रिकवरी आता है और गंभीर हालत होने से बच सकते है| 

तुलसी पत्ते चबाने के नुकसान – Side effects of Tulsi in hindi

  • तुलसी अगर निमंन मात्रा में फायदकारक है तो हानि भी हो सकती है जैसे की तुलसी लीव्स साइड एफेक्ट्स, अगर ज़्यदा खाए तो यह है की पेट मे जलन हो सकती है| 
  • कई विशेषज्ञ का मानना है की तुलसी लीफ को चबाना नहीं चाहिए क्योंकि इसमे पारद (mercury) होता है जो शरीर मे दाखिल होता है और लंबे समय तक रह के बहुत नुकसान कर सकता है| 
  • क्योंकि तुलसी लीफ से ब्लड शुगर डाउन होता है तो अगर मधुमेह के मरीज़ दवाई भी ले और तुलसी भी तो तुलसी लीव्स साइड एफेक्ट्स यह है की ब्लड शुगर बिल्कुल डाउन हो के चक्कर आ सकते है और बेहोशी हो सकती है| 
  • गर्भवती महिला शुरू के दौर में तुलसी ग्रीन टी बेनिफिट्स अवश्य पाएगी मगर ज़्यादा प्रमाण में लेने से तुलसी ग्रीन टी साइड एफेक्ट्स यह है की गर्भाशय संकुचित हो सकता है शायद गर्भपात भी हो जाए| 
  • तुलसी गीं टी साइड एफेक्ट्स यह भी है की पेट मे जलन और दर्द हो सकती है एसिडिटी के कारण| 
  • तुलसी लीफ का सेवन करे महावरी होने के बाद पाँच दीनो तक तो यह गर्भ निरोधक होता है और कोई महिला गर्भवती बनना चाहे तो तुलसी अवरोधक साबित हो सकता है| 
  • तुलसी लीफ मे यूगेनोल (eugenol)अच्छे प्रमाण में होते है और अधिक मात्रा मे तुलसी जूस का सेवन करे तो तुलसी लीव्स साइड एफेक्ट्स यह हो सकता है की खांसने पर खून आ जाए या तो खून ज़रूरत से ज़्यादा पतला हो जाए| ऐसे मे चोट लगने पर खून का बहाव जल्दी से बंद नहीं होता है| 
  • पुरुषो मे अगर तुलसी लीफ या तुलसी जूस या तुलसी बीज ज़्यादा प्रमाण मे उपयोग किए तो उल्टा सीड्स साइड एफेक्ट्स सीधा शुक्राणु पर होता है और प्रजनन क्षमता कम हो जाती है| 
  • अंजाने में तुलसी बीज खाने के बाद या तुलसी जूस पीने के बाद अगर दूध का सेवन किया तो सफेद दाग हो सकते है| ऐसे ही प्याज, नमक, लहसुन और हल्दी तुलसी के साथ खाने मे नुकसान होता है| 
  • तुलसी लीफ अगर चबाये तो यह एसिडिक होने के कारण दांतो के उपर के इनेमल(enamel) को पिघला सकते है| 

तुलसी संजीवनी समान है और इसका सही उपयोग करे तो त्वचा, बाल और शरीर लम्बी उमर तक स्वस्थ रहते है| जहाँ एलोपैथिक (allopathic)औषध से नुकसान होता है तो तुलसी लीफ के सही इस्तेमाल छोटे बच्चो में भी किया जा सकता है बिना संकोच के| तुलसी रखे घर मे, पूजे और स्वास्थ में भी उपयोग करे|

TAGS: #tulsi health benefits in hindi #health benefits of tulsi tea in hindi #health benefits of tulsi leaves #holy basil benefits #तुलसी के बीज के फायदे #तुलसी के बीज का महत्त्व #तुलसी के फायदे #तुलसी के नुकसान

Loading...

Leave a Comment

Your Name

Comment

7 Comments

Deepak, Nov 08, 2017

Sir thanks for sharing this useful information

Munim , Nov 04, 2017

Whatever you told the benefit of basil leaf that was awesome and well written and easy to understand.Thanks for the post

Versha Gupta, Nov 02, 2017

Mere sir mai bahut dard hota hai jab sehan nahin hota hai to main disprin kha leti hun disprin bhi kabhi kabhar asar nahin karti isliye aap mujhe bata sakte hain ki tulsi ke fayede sir dard ke liye hota hai kiya?

Keerti Sinha , Oct 28, 2017

Aapne jo tulsi ke fayede aur nuksaan bataye hain bahut hi kamal ke hain lekin main yeh jaana chahti hun ki main BP low ki patient hun kIya mujhe tulsi ka sevan karna chahiye?

Davesh Thakur, Oct 26, 2017

Mere sir mein kuchch dino se bahut dard tha fir mere friend ne kaha ki agar tulsi ka pata khayenga to tere sir ke dard mein aram hoga kya wakiye mai aisa hai? please clear me

Rishi Pal , Oct 23, 2017

Mujhe kisi ne kaha ki tulsi ke pate ka pryog karne se aapka tanav dur hota hai kiya aisa sach mai hota hai please batayen Sir

Mohit Narang, Oct 18, 2017

Aapne jo tulsi ke benefit bataye hain wo bahut hi kamal ke hain aur saath hi understandable bhi hain inme se sabse achcha hai ki hum tulsi khake apna tanav dur karne ke saath saath tanav ko bhaga sakte hain.