चेहरे पर झुर्रियों का कारण रूखी त्वचा तो नहीं?

चेहरे पर झुर्रियों का कारण रूखी त्वचा तो नहीं?

रूखी त्वचा में झुर्रियों का घरेलू इलाज उपचार (Does dry skin causes wrinkles in hindi): ज़्यादा उमरवाले को देखो तो कई लोगो के चेहरे पर झुर्रियों ज़्यादा दिखाई देती है जब की कई लोगो के चेहरे पर कम होते है| झुर्रियां ज़्यादा होने के कई कारण होते है और आजकल कम उमर में भी झुर्रियां दिखाई देती है| कम या ज़्यादा झुर्रियों के पीछे आहार, लाइफस्टाइल, व्यायाम और अन्य कारण है| इन मे से एक कारण है स्किन टाइप| स्किन टाइप्स दो प्रकार के होते है| एक है ड्राइ स्किन और एक है ऑयली स्किन| ऑयली स्किन मे ऑयल्स ज़्यादा होते है और इस के कारण त्वचा पर झुर्रियां कम दिखाई देती है| ड्राइ स्किन मे मॉइस्चर कम होता है और त्वचा नाज़ुक होने के कारण झुर्रियां ज़्यादा दिखाई देती है| तो क्या चेहरे पर झुर्रियों का कारण रूखी त्वचा है? पढ़िए और जानिए| 

झुर्रियों के कारण – Causes of Wrinkles in hindi

झुर्रियां होती है अंदरूनी कारण से और बाहर के कारण से| 

  • जवानी मे त्वचा हरी भरी रहती है और त्वचा मे कोलेजन और नमी पूरते प्रमाण मे होती है| उमर बढ़ने पर कोलेजन  कम हो जाते है, त्वचा की इलास्टिसिटी कम हो जाती है और नमी भी कम होने पर सिलवटे पड़ कर झुर्रियों के रूप मे दिखाई देती है| यह एक कारण है झुर्रियों का| यह शरीर के अंदर का नेचुरल एजिंग प्रोसेस है| 
  • अंदरूनी प्रोसेस का असर भी होता है त्वचा पर| आहार सही ना हो, विटामिन और मिनरल्स की कमी हो, प्रोटीन की कमी हो और पानी कम पिए तो चेहरे पर की त्वचा जल्दी सूख जाती है और सिलवटे पड़ जाती है| पाचन सही नहीं है और बीमारियां  हो तो भी झुर्रियां हो जाती है| होर्मोनेस का बैलेन्स डिस्टर्ब हो जाए, फैट्स कम हो जाए और मेटाबोलिज्म डिस्टर्ब हो जाए तो भी झुर्रियां पड़ जाती है| 
  • बाहर के असर है ठंडी हवा, एयर कंडीशनिंग, ज़्यादा धूप, त्वचा की देखभाल ठीक से ना होना और पानी मे ज़्यादा समय गुज़ारना, यह सब भी झुर्रियों के कारण बन जाते है| अगर बहुत गरम पानी से स्नान करे तो भी त्वचा के नीचे के भाग में जो फैट सेल्स है उन का ब्रेकडाउन हो कर त्वचा शुष्क हो के झुर्रियां पड़ जाती है| अन्य कारण है कास्मेटिक का उपयोग करना, क्लीन्ज़र्स जो त्वचा को रूखी बना दे, मेकप को ज़्यादा ताक़त लगा के निकलना और मॉइस्चराइजर का उपयोग ना करना| यह सभी के कारण से झुर्रियां पड़ जाती है| मीठी चीज़े ज़्यादा खाने से भी झुर्रियां जल्दी से पड़ जाती है| 
  • रूखी त्वचा वाले अगर ध्यान ना रखे और धूप मे ज़्यादा घूमे तो सब से ज़्यादा असर सूर्य किरण से होता है और सन  डैमेज से रिंकल्स जल्दी आ जाते है| 
  • बाहर के असर ज़्यादा गहरे होते है इसीलिए सावधानी रखना, खास कर के रूखी त्वचा वालो को, महत्व की बात है| 

रूखी त्वचा मे झुर्रिया होने के कारण - Wrinkles in dry skin in hindi

रूखी त्वचा मे ऐसे ही नमी की कमी होती है| ऐसे व्यक्ति अगर पानी कम पिए तो शरीर त्वचा तक पानी नहीं पहुँचा सकता है| उपर के त्वचा के नीचे होता है कोलेजन जिस मे पानी ज़्यादा होता है और जिस के कारण त्वचा हरी  भरी दिखती  है| अगर कोलेजन मे पानी कम पहुँचे तो यह ढीला और संकुचित हो जाता है और इस के फाइबर क्रैक होने लगते है और एक दूसरे से जुड़ जाते है| इस का परिणाम है की त्वचा के सरफेस पर झुर्रियां प्रकट होती है| 

यह बात सही नहीं है की रूखी या शुष्क त्वचा मे ज़्यादा झुर्रियां होती है| सच यह है की अगर बारीक झुर्रियां भी हो तो शुष्क त्वचा मे यह आसानी से नज़र आती है|यह बात ज़रूर है की देखभाल सही ना हो तो झुर्रियां जल्दी से पड़ सकती है और आसानी से नज़र आती है| तेली त्वचा मे कुदरती तेल और मॉइस्चराइजर बना रहता है| शुष्क त्वचा मे इन तत्वो की कमी होती है| इसीलिए अगर आहार भी सही हो तो बाहर के इन्फ्लुयेन्स जैसे की ठंडी हवा और धूप के कारण रूखी त्वचा को नुकसान जल्दी से हो जाता है| 

रूखी त्वचा में झुर्रियां ठीक करने के घरेलु उपाय - Ways to prevent wrinkles in dry skin in hindi

रूखी त्वचा ज़्यादा सेन्सिटिव होती है| धूप से और ठंडी हवा से सब से ज़्यादा नुकसान होता है क्योंकि इन से त्वचा से मॉइस्चर निकल जाता है| रूखी त्वचा हो तो झुर्रिओं से बचने के लिए यह करे: 

  • धूप मे ना जाए| अगर जाना है तो पहले सनस्क्रीन और मॉइस्चराइजर लगा ले और चेहरे को कपड़े से ढक के रखे या तो छाते का उपयोग करे| 
  • रूखी त्वचा हो तो रात को जैतून तेल या नारियल तेल से चेहरे को मालिश करे तो यह मॉइस्चराइज हो जाएगा| सवेरे स्नान करने के बाद चेहरे पर मॉइस्चराइजर ज़रूर लगाए तो झुर्रियों से बचे रहेंगे| 
  • अगर रिंकल्स हो गये है तो एंटी-एजिंग क्रीम्स का उपयोग करे जिस मे glycolic एसिड और hyaluronic एसिड सीरम होता है| AHAऔर कोलेजन सीरम का उपयोग करे| 
  • अवोकेडो मे मॉइस्चराइजिंग और नॉरिशिंग गुण है| यह फैटी होने के कारण त्वचा को नमी देंगे और रिंकल्स से बचा के रखेंगे| अंडा भी श्रेष्ट है रिंकल्स हटाने के लिए| 
  • हर रोज रात को चेहरे को और गर्दन के भाग को मालिश करे नारियल तेल लगाके या तो दूध का मलाई का उपयोग करे| 
  • कुदरती मॉइस्चराइजर मे शहद और अलोएवेरा उत्तम है| इन का प्रयोग करे| 
  • शुष्क त्वचा हो तो पानी पीते रहना चाहिए और चेहरे को भी दिन मे दो-तीन बार पानी से भिगोए| 

यह ग़लत है की रूखी त्वचा के कारण झुर्रियां जल्दी से हो जाती है| चिंता ना करे| रूखी त्वचा हो तो पहले से ध्यान रखे तो बच के रहेंगे|

TAGS: #rukhi twacha ke upay in hindi #gharelu nuskhe for dry skin in winter in hindi #dry skin ke liye kya karna chahiye #chehre ki jhuriyan ka ilaj in hindi #anti wrinkle home remedies in hindi #wrinkles in hindi #wrinkles meaning in hindi #wrinkle solution in hindi #how to remove wrinkles in hindi #home remedies for wrinkles on face in hindi #rookhi twacha mein jhuriyan hatane ke gharelu upay nuskhe tarike #jhuriya mitane ke upay #jhuriya kam karne ka upay #jhuriyan khatam karne ka tarika #desi nuskhe for face wrinkles

 

Loading...

Leave a Comment

Your Name

Comment

0 Comments